Electricity Saving Tips For Homes And Offices

भारत में इंडक्शन कुकर: विभिन्न ब्रांड, काम की लागत, कीमत और दक्षता का विश्लेषण

By on August 27, 2015

जब हम प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक विशिष्ट कार्य करने के लिए पारंपरिक तरीकों में परिवर्तन करते है, तब लोग काफी सोच विचार में पड़ जातें हैं| यहाँ अगर एक विशेष कार्य, खाना पकाने है का हैं तो पारंपरिक विधि के अनुसार हमे एक गैस स्टोव का उपयोग करना चाहिए और हम यहाँ एक इंडक्शन कुकर का उपयोग शुरू करने के लिए ही कह रहे है| जब बात इंडक्शन कुकर का उपयोग करने के लिए होती है, तब लोगो के पास बहुत से सवाल होते हैं| हम बिजली बचाओ पर उन्हें जवाब देने और लोगों में भ्रम की स्थिति से छुटकारा पाने में मदद करने के लिए प्रयत्नशील हैं| इस लेख का उद्देश्य इंडक्शन कुकर के बारें में सभी प्रासंगिक जानकारी उपलब्ध कराना हैं|

एक इंडक्शन कुकर कैसे काम करता है

इंडक्शन कुकर एलेक्ट्रोमैग्नेटिस्म के सिद्धांत पर आधारित होता हैं| भोजन पकाने के बर्तन (आम तौर पर शीशे-चीनी मिट्टी के बने होते है) को तांबे के तार से बने कएल पर खाना पकाने की सतह के नीचे रखा जाता हैं| इंडक्शन कुकिंग में अल्टेरनाटिंग करंट, तांबे के तार से बने कएल के माध्यम से बहता है, और वह एक चुंबकीय क्षेत्र को पैदा करता है| खाना पकाने की सतह से ऊपर रखा हुआ भोजन पकाने का बर्तन इस अल्टेरनाटिंग करंट के प्रभाव में आकर चुंबकीय क्षेत्र बनाने के लिए प्रेरित हो जाता है| भोजन पकाने के बर्तन के माध्यम से बहते हुआ करंट, एक प्रतिरोधक हीटिंग भी उत्पन्न करता है, जिसके कारण भोजन को पकने में जरूरी गर्मी प्राप्त हो जाती हैं| एक गैस स्टोव या एक इलेक्ट्रिक स्टोव के मामले के विपरीत, जिनमे खाना पकाने की सतह के आसपास की जगह को गर्म किया जाता हैं, इंडक्शन कुकर केवल सतह को ही गर्म करता हैं| इससे गर्मी एवं ऊर्जा का कम अपव्यय होता है, जिसके कारण रसोई घर का क्षेत्र अपेक्षाकृत ठंडा रहता हैं|

InductionCooktop1

भारतीय रसोई और कुकवेयर में इंडक्शन कुकर का महत्व

हमारे घरो में नियमित रूप से पक रहे अधिकांश भारतीय व्यंजन, हम इंडक्शन कुकर का उपयोग कर तैयार कर सकते हैं| कुछ ब्रांड भी भारतीय खाना पकाने के लिए पूर्व निर्धारित कार्यों के साथ विशेष रूप से प्रोग्राम्ड इंडक्शन कुकर प्रदान कर रहे हैं| हालांकि, कुछ भारतीय व्यंजन जैसे की रोटी/फुल्का को इंडक्शन कुकर पर पकाना मुश्किल हो सकता है|

इंडक्शन कुकर को खाना पकाने के लिए बढ़िया कुकवेयर की आवश्यकता होती है| इंडक्शन कुकर में फेरोमैग्नेटिक (चुंबकीय गुण होना चाहिए), इसलिए इस पर लौह-चुंबकीय लोहा और इस्पात जैसी सामग्री से बना बर्तन ही इस्तेमाल किया जा सकता है| अगर आप अपने मौजूदा कुकवेयर का परीक्षण करना चाहते हैं की वह खाना पकाने के लिए बढ़िया व चुंबकीय गुणशील हैं या नहीं तो आप उसके आधार के पास एक चुंबक को ले जाएं, अगर व इसे पकड़ लेता है तब वह इंडक्शन कुकर के लिए योग्य हैं अन्यथा नहीं|

इंडक्शन कुकर पर खाना पकाने की लागत

इंडक्शन कुकर पर खाना पकाने की लागत, आपके शहर में बिजली और गैस (पीएनजी या एलपीजी) की कीमत पर निर्भर करता है| अगर बिजली की लागत काफी ज्यादा (एक बिजली इकाई 5 रुपये से अधिक है), तो इंडक्शन कुकर का उपयोग शायद किफायती न पड़े| अगर बिजली की लागत कम है और पीएनजी/एलपीजी में सब्सिडी उपलब्ध नहीं हैं या महंगे हैं, तब इंडक्शन कुकर का उपयोग किफायती पड़ता हैं|

पिछले एक लेख (कुकटॉप्स की तुलना) में हमने गैस और इलेक्ट्रिक कुकटॉप्स के दाम का एक तुलनात्मक अध्ययन प्रस्तुत किया हैं, अपनी तुलना में हमने बिजली दर रुपए 5 प्रति यूनिट और पीएनजी की नियमित दरों पर शोध किया था| हमने अपने विश्लेषण में यह पाया की पीएनजी/एलपीजी की तुलना में इंडक्शन कुकर के उपयोग की लागत (अगर इंडक्शन कुकर थोड़ा महंगा हो) के करीब होता हैं| यहाँ हम एक गणना पुनः प्रस्तुत कर रहे हैं, जो हमने उस लेख में भी डाला हैं:

रसोई गैस स्टोवपीएनजी स्टोवइंडक्शन कुकटॉपइलेक्ट्रिक कएल कुकटॉप
यूनिट परिभाषा1 सिलिंडर (14.2 किलोग्राम एलपीजी)1 SCM1 किलो वाट घंटा1 किलो वाट घंटा
ऊर्जा (काम या ऊर्जी की इकाई -जूल में) प्रति यूनिट6546200004186800036000003600000
ऊर्जा (काम या ऊर्जी की इकाई -जूल में) प्रति इकाई फैक्टरिंग दक्षता2618480001674720030240002664000
10 लिटर्स पानी की आवश्यक हीटिंग के लिए बिजली इकाइया0.0120.1881.0421.182
प्रति इकाई लागत (रुपये में)रुपये 423 (सब्सिडी-प्राप्त), रुपये 900 (सब्सिडी-रहित)रुपये 23रुपये 5रुपये 5
10 लिटर्स पानी की आवश्यक हीटिंग प्रति इकाई लागत (रुपये में)रुपये 5.09 (सब्सिडी-प्राप्त), रुपये 10.8 (सब्सिडी-रहित)रुपये 4.33रुपये 5.21रुपये 5.91

क्या इंडक्शन कुकर महंगा होता हैं?

हाँ, इंडक्शन कुकर पारंपरिक कुकर की तुलना में अधिक महंगे होते हैं| लेकिन उनकी उच्च दक्षता की वजह से वह अपने परिचालन बचत से खरीद के वक़्त हुआ अतिरिक्त लागत को काफी हद तक कम कर देते हैं| इंडक्शन कुकर की लागत कुकर के ब्रांड, टाइप और वाट क्षमता के आधार पर भिन्न होती हैं| भारतीय बाजार में उपलब्ध इंडक्शन कुकर के विभिन्न वाट क्षमता के लिए अनुमानित लागत यहाँ निम्नानुसार प्रस्तुत की गई हैं|

वाट क्षमतामूल्य रेंज *
1,400 वाट, 1,500 वाटरुपये 2,400 — रुपये 3,700
1,800 वाटरुपये 2,900— रुपये 3,700
1,900 वाटरुपये. 1,700— रुपये 4,300
2,000 वाटरुपये 2,600—रुपये 4,500
2,100 वाटरुपये 4,600—रुपये 6,000

* यह लागत सांकेतिक हैं और कुकर और ब्रांड के प्रकार के आधार पर भिन्न हो सकती हैं|

क्या इंडक्शन कुकर रसोई गैस स्टोव की तुलना में शीघ्र कार्य करते हैं?

निश्चित रूप से एक इंडक्शन कुकर रसोई गैस स्टोव की तुलना में शीघ्र कार्य करते हैं| यह इसलिए होता हैं क्यूंकि एक इंडक्शन कुकर में उसका सतह ही गर्मी का स्रोत होता हैं| जैसे ही गर्मी का नुकसान कम होता हैं, खाना पकाने में तेजी आती हैं| 'कंस्यूमर वौइस्' नामक, एक संगठन ने जो उपभोक्ता जागरूकता के पक्ष में निरंतर आवाज़ उठाता हैं ने इंडक्शन कुकर के विभिन्न ब्रांडों पर हुए उसके अनुसंधान के आधार पर एक रिपोर्ट प्रकाशित की हैं| उन्होंने अपने परीक्षण में पाया की एक इंडक्शन कुकर 1 लीटर पानी उबालने के लिए 2.58 मिनट की न्यूनतम खपत से लगभग 4.04 मिनट की एक अधिकतम समय तक बिजली का उपभोग करता हैं| समय की यह अंतर/रेंज उसके ब्रांड पर आधारित होती हैं| दूसरी ओर, एक एलपीजी गैस स्टोव पानी की वही मात्रा उबलने के लिए 5.36 मिनट लगाता हैं| उसके अलावा, हीटिंग में लगने वाला समय कुकर की वाट क्षमता से सीधे आनुपातिक/संबंधित होता हैं|

इंडक्शन कुकर की क्षमता

अमेरिकी ऊर्जा विभाग द्वारा आयोजित उबलते पानी के परीक्षण के अनुसार, इंडक्शन कुकर, गैस और बिजली के स्टोव की क्षमता का तुलनात्मक अध्ययन यहाँ प्रस्तुत हैं (स्रोत: US: DOE):

गैसबिजलीइंडक्शन
कार्यक्षमता40%74%84%

इंडक्शन कुकर की क्षमता, भोजन के लिए ऊर्जा खपत और कुल ऊर्जा का अनुपात होती हैं| यह पैन के आकार और हीटिंग की लौ/सतह पर निर्भर होता हैं| इंडक्शन कुकर की क्षमता उच्चतम होती है|

इंडक्शन कुकर की सुरक्षा संबंधित जानकारी

  • खुली आग की अनुपस्थिति, उनके उपयोग को अत्यंत सुरक्षित बनाती हैं|
  • गर्मी अंततः इंडक्शन कुकर के सतह से ही उत्पादित होती हैं, इस प्रकार कुकर के नीचे की सतह अपेक्षाकृत ज्यादा ठंडी रहती हैं, जिससे उपयोग के दौरान जलने का जोखिम कम हो जाता हैं|

InductionCooktop2

  • इंडक्शन कुकर में एक नियंत्रण प्रणाली होती हैं| अगर कुकर पर्याप्त मात्रा में बड़ा नहीं हैं या भोजन बनाने वाली सामग्री कुकर पर नहीं हैं, तो नियंत्रण प्रणाली हीटिंग प्रक्रिया को बंद कर देती हैं|
  • चुंबकीय क्षेत्र (जो की अनुमान के मुताबिक में 2-3 सेमी तक प्रक्षेपित होता हैं) से उपयोगकर्ताओं को कोई नुकसान पैदा नहीं होता हैं| हालांकि, हृदय प्रत्यारोपण वाले उपयोगकर्ताओं को इनका प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श कर लेना चाहिए| कुछ इंडक्शन कुकर में चुंबकीय विकिरण से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए चुंबकीय-विरोधी दीवार संलग्न होती हैं|
  • इंडक्शन कुकर में तापमान नियंत्रण विशेषता से सुरक्षित उपयोग किया जाता हैं, यह ऊर्जा की आपूर्ति को नियंत्रित करता हैं और कुशल सनचालन में भी मदद पहुँचाता हैं|
  • भोजन के ओवरहीटिंग को एक टाइमर का सदुपयोग कर रोका जा सकता है

इंडक्शन कुकर अन्य परम्परागत कुकर की तुलना में उपयोग करने के लिए बहुत सुरक्षित होते हैं, लेकिन फिर भी हमे कुछ सावधानिया जरूर बरतनी चाहिए, ताकि इनका उपयोग पूर्णता सुरक्षित हो सके| जैसे की बिना हाथ के संरक्षण से हमे कुकर को नहीं छूना चाहिए| उपयोग करने के बाद हमे इन्हे बंद करना नहीं भूलना चाहिए और चुंबक को इनके बहुत पास नहीं लाना चाहिए|

पक्ष-विपक्ष

  • पक्ष
    • नियंत्रण प्रणाली और अन्य सुरक्षा सुविधाओं की वजह से इनका उपयोग काफी सुरक्षित होता हैं
    • आसान सफाई और प्रबन्धन की आवश्यकता
    • कम ऊर्जा खपत जो पर्यावरण के लिए अनुकूल होती हैं
    • गर्मी अपव्यय कम से कम होता हैं, जो परिणामस्वरुप दक्षता में इज़ाफ़ा करती हैं और रसोई घर को भी ठंडा रखती हैं|
    • पारंपरिक गैस स्टोव की तुलना में अधिक तेज होते हैं|
    • तापमान नियंत्रक और टाइमर का उपयोग करने से इनका इस्तेमाल आसान हो जाता हैं|
  • विपक्ष
    • नियमित कुकटॉप्स की तुलना में महंगे
    • विशेष कुकवेयर की आवश्यकता होती हैं
    • बिजली नहीं होने की स्थिति में खाना नहीं पक सकता हैं
    • भोजन जैसे चपाती/रोटी जिसे पकाने में खुले लौ की आवश्यकता पड़ती है, उसे इंडक्शन कुकर पर नहीं पकाया जा सकता हैं|
    • इंडक्शन कुकर केवल फ्लैट तली बर्तनो पर ही काम करता है, इसे बहुत बड़े या बहुत छोटे बर्तनो के साथ काम करने में कठिनाइया आती हैं|

तो, हमें क्या पकाना चाहिए?

इंडक्शन कुकर की अपनी कुछ सीमाएं हैं, लेकिन जब बात ऊर्जा की बचत, लागत की प्रभावशीलता, खाना पकाने में समय की बचत/तेजी, आसान उपयोग, और सुरक्षित प्रक्रिया की आती है, तब इंडक्शन कुकर कही बेहतर माने जातें हैं| इंडक्शन कुकर ने अभी तक भारतीय रसोई में एलपीजी गैस स्टोव की जगह लेनी शुरू नहीं की हैं, लेकिन वह इनके पूरक के रूप में जरूर स्थापित होना शुरू हो गयें हैं|

यहाँ भारतीय बाजार में उपलब्ध इंडक्शन कुकर के मॉडल की (प्रयोगशाला परीक्षण के आधार पर) सूची प्रस्तुत की गई है| यह सूची उपभोक्ता मामले का विभाग (उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय)/ कंस्यूमर वौइस् के सयुक्त प्रयास पर आधारित हैं|

रैंकब्रांडमॉडलवारंटी/गारंटी (वर्षों में)
1एनालसाEasy Cook LX1
2केनवुडIH3501
3बजाजPlatini PX130K1
4मर्फी रिचर्ड्सChef xpress 1002
5वेस्टिंगहाउसWKICLBC203
6फिलिप्सHD49071
7उषाCookjoy1
8ग्लेनGL30701
9संनफ्लेमSF1C011
10खेतानKIC40951

उपभोक्ता मामले विभाग (उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय))/कंस्यूमर वौइस् की रिपोर्ट के अनुसार सबसे किफायती ब्रांड होते हैं – एनालसा और बजाज| और सबसे अधिक ऊर्जा कुशल ब्रांड है – वेस्टिंगहाउस|

संदर्भ:

http://consumeraffairs.nic.in/consumer/writereaddata/Induction%20cooker-12.pdf (Consumer Voice Report)

http://circulon.uk.com/about-us/induction-cooking-with-circulon

http://theinductionsite.com/proandcon.shtml

http://en.wikipedia.org/wiki/Induction_cooking

http://www.keralaenergy.gov.in/emc_reports/Induction%20Cooker_a%20brief%20investigation.pdf

Related Articles



The short URL of the present article is: http://bgli.in/Gh2h8

Please use the commenting form below to ask any questions or to make a comment. Please do not put the same comment multiple times. Your comment will appear after some time. Also please note that we do not reply to emails or comments on social media. So if you have any question, please put it in the form below and we will try to reply to it as soon as possible. If you are asking for an appliance recommendation, please be as specific with your requirements as possible because vague questions like asking for "cheap and best" would get vague replies.


अगर आप के कुछ भी सवाल हैं, वह आप नीचे दिए हुए सवाल-जवाब सेक्शन में पूछ सकते हैं। आप अपने सवाल हिंदी में भी पूछ सकते हैं और हम आपको हिंदी में ही जवाब देंगे। कृपया एक ही सवाल को बार बार ना डालें। आप एक बार जब "submit " बटन दबाएंगे, उसके बाद आपका सवाल यहाँ दिखने में थोड़ा टाइम लगेगा। कृपया धैर्य रखें। अगर हमारे पास आपके सवाल का जवाब है तो हम उसे जल्दी से जल्दी जवाब देने की कोशिश करेंगे। कृपया अपने सवाल ई मेल या सोशल मीडिया पर ना डालें।



Top

Send this to a friend